Samvad lekhan: बढ़ती महँगाई व कीमतों के विषय में दो महिलाओं के बीच संवाद (बातचीत)

SUSHIL SHARMA
4
नमस्कार दोस्तों ! हिंदी विज़न में आपका स्वागत है। आज हम आपको "दो महिलाओं के बीच महँगाई के बारे में  संवाद" प्रस्तुत करेंगे। यह एक महत्वपूर्ण संवाद है जो अक्सर  परीक्षाओं में लिखने के लिए आता है। चूंकि संवाद हमें कुछ ही पंक्तियों व शब्दों में लिखना होता है इसीलिए आवश्यक है कि संवाद लेखन एकदम सटीक और वास्तविक जैसा हो। इसीलिए आज हम आपके लिए "DO mahilaon ke beech samvad" के दो उदाहरण प्रस्तुत करेंगे। आप अपनी इच्छानुसार किसी का भी चयन कर सकते हैं। 

तो चलिए बिना किसी देरी के शुरू करते हैं 

बढ़ती महँगाई के विषय में दो महिलाओं के बीच संवाद (बातचीत)

बढ़ती महँगाई को लेकर महिलाओं में चिंतापूर्ण संवाद (बातचीत)


सीमा :-  राधा बहन , आप इतनी चिंतित क्यों हो ? 

राधा :-   क्या बताऊँ बहन, महँगाई दिन ब दिन बढ़ती जा रही है। घर का खर्च निकालना मुश्किल हो रहा है।

सीमा :-  हां बहन सही कहा तुमने, आमदनी अठन्नी और खर्चा रुपैया वाली बात है। 

राधा :-   सब्जी हो या राशन, कपड़े हों या पढ़ाई हर क्षेत्र में महँगाई का असर है। हर चीज में कटौती करनी पड़ती है।

सीमा :-  हम मध्यम वर्ग के लोग इस महँगाई की चक्की में पिस्टे जा रहे हैं। 

राधा :-   सही कह बहन, अब तो सरकार पर ही भरोसा है कि वह इसके लिए कुछ कदम उठाएं। 

सीमा :-  हां अब तो इसी की आस है बहन।

बढ़ती महँगाई पर दो महिलाओं के बीच संवाद





बढ़ती हुई कीमतों पर दो महिलाओं के बीच संवाद 


महिमा  :-   कहाँ से आ रही हो कविता बहन, इतने दिनों बाद दिखाई दी। 

कविता :-   हां इन दिनों मैं थोड़ा व्यस्त थी। अभी बाजार से आ रही हूँ। 

महिमा  :-  आप मुझे चिंतित दिखाई दे रही हो। क्या हुआ बहन ?

कविता :-   क्या बताऊँ बहन, इस महँगाई ने तो गरीब की कमर तोड़ रखी है। 

महिमा  :-  क्या हुआ बहन ?

कविता :-   घर का सामान और राशन लेने गयी थी लेकिन हर चीज़ की कीमत तो जैसे आसमान छू रही है। 

महिमा  :-  हां बहन, इससे तो सभी परेशान हैं।

कविता :-   अब तुम ही बताओ महिमा, सारे पैसे भी खत्म हो गए और समान भी रह गया। 

महिमा  :-  अब क्या कर सकते हैं इसका आम आदमी को तो झेलना ही पड़ेगा। 

कविता :-   काश कि सरकार जमाखोरी और कालाबाजारी पर लगाम लगाए और महँगाई कम करने के लिए कदम उठाए। 

दो महिलाओं के बीच महँगाई पर संवाद


निष्कर्ष

हां तो दोस्तों आशा करते हैं कि आपको हमारी आज की यह पोस्ट " दो महिलाओं के बीच महँगाई पर संवाद " पसंद आई होगी। आज की इस पोस्ट में हमने "बढ़ती कीमतों पर दो महिलाओं के बीच संवाद" के दो उदाहरण प्रस्तुत किये हैं। 

अगर आपको हमारी पोस्ट पसंद आती है तो इसे अपने दोस्तों और  सोशल मीडिया पर शेयर करें और शिक्षा से जुड़ी ऐसी ही पोस्ट पढ़ने के लिए हमे   Facebook Instagraam और Twitter पर follow करें। 

धन्यवाद !

आपका दिन शुभ हो !





Post a Comment

4Comments

Post a Comment